23/10/2008

एमजी कालेज में बीकाम की मान्यता हुई बहाल

पिछले पांच वर्षो से बंद पड़ी बीकाम (B.Com.) की कक्षाएं चालू सत्र से शुरू कराने के लिये श्री छत्रपति जी शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर ने हरी झंडी दे दी है। दो सौ चालीस सीटों की स्थायी मान्यता मिलने के बाद बीकाम प्रथम वर्ष के लिये प्रवेश शुरू हो जायेंगे।

महात्मा गांधी महाविद्यालय फतेहपुर में प्रबंधकीय विवाद के चलते बीकाम की कक्षाएं स्वीकृत होने के दो वर्ष बाद ही बंद हो गयीं जोकि अब तक लगातार बंद ही चल रही थी । पांच वर्षो से बीकाम की कक्षाएं नहीं लग रही थीं। नई प्रबंध समिति ने प्रयास करके महाविद्यालय में बीकाम (B.Com.) संकाय की स्थायी मान्यता हासिल कर ली है। मालूम चला है कि छत्रपति शाहू जी महराज विश्वविद्यायल कानपुर व शासन से दो सौ चालीस सीटों की मान्यता मिल गयी है। प्रवेश प्रक्रिया तुरंत शुरू हो जायेगी। बीकाम में प्रवेश लेने वाले छात्र-छात्राएं महाविद्यालय से संपर्क कर आवेदन ले सकते हैं।

फतेहपुर की द्रष्टि से यह एक शुभ समाचार कहा जा सकता है वहीं हमें यह भी सोचने को मजबूर करता है की हम अब भी मूलभूत सुविधाओं में कितना पिछडे हुए हैं ?आशा की जानी चाहिए कि अब शायद इस दिशा में सुधार हो


(साभार समाचार स्त्रोत - जागरण याहू )

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ब्लॉग़ की रचनाओं को पढ़कर आपके मन में कुछ ना कुछ भाव तो जागेंगे ही, चाहे वह आलोचना हो या तारीफ़ या फ़िर एक समालोचना, तो फ़िर हिचक किस बात की, बस लिख डालिए यहां अपने विचार टिप्पणी के रुप मे। आपकी टिप्पणी का सदा स्वागत है।
धन्यवाद!

a href="YOUR LINK">YOUR TEXT /a